Skip to main content

बेनीपट्टी विधानसभा क्षेत्र मे भाजपा के टिकट को लेकर प्रतिस्पर्धा बढ़ी

बिहार में मधुबनी जिला की बेनीपट्टी विधानसभा सीट को लेकर भाजपा के अंदर प्रतिस्पर्धा बढ़ती दिख रही है. यहां से वरिष्ठ पत्रकार संतोष ठाकुर का नाम भी तेजी से सामने आ रहा है.

दिल्ली में राष्ट्रीय राजनीति और केंद्रीय गृह मंत्रालय के साथ ही भाजपा की गतिविधियों को कवर करने वाले संतोष ठाकुर लंबे समय से मिथिला और मैथिली के अभियानों से जुड़े रहे हैं. बेनीपट्टी क्षेत्र में विकास कार्यों को लेकर भी वह सक्रिय रहे हैं.

मूल रूप से मधुबनी जिला के रहने वाले संतोष ठाकुर पत्रकारिता कार्यों को लेकर कई देशों की यात्रा कर चुके हैं. अमेरिका सरकार के प्रतिष्ठित आईवीएलपी फैलोशिप के तहत वह करीब  एक महीना अमेरिका के 5 राज्यों का भी दौरा कर चुके हैं.


दिल्ली में मिथिला मैथिली के लिए लगातार संघर्ष करने वाले संतोष ठाकुर कई रेलगाड़ियों के जयनगर और मिथिलांचल के अन्य क्षेत्रों में विस्तार के लिए भी संघर्षरत रहे हैं. मिथिलांचल में एम्स जल्द शुरू करने को लेकर भी वह लगातार सरकारी विभागों के साथ संपर्क में लगे हुए हैं. उचैठ स्थान को एक राष्ट्रीय स्तर का धार्मिक स्थल बनाने के लिए भी वह पर्यटन विभाग और अन्य केंद्रीय मंत्रालयों के साथ लगातार संपर्क करते रहे हैं.

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि बेनीपट्टी का सर्वांगीण विकास युवाओं को नौकरी, छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा तथा कमजोर व असहायों को सरकारी योजनाओं का  शत-प्रतिशत लाभ दिला कर ही हासिल किया जा सकता है. यह कार्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तथा भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के नेतृत्व में ही संभव है.

Comments

Most Popular

अभिनेता ऋषि कपूर को श्रद्धांजलि

फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर का 30 अप्रैल को मुंबई में कैंसर से निधन हो गया। बुधवार को सांस लेने में तकलीफ की वजह से उन्हें मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। ऋषि‌ कपूर पिछले साल सितंबर महीने में न्यूयॉर्क से कैंसर का इलाज कराके मुंबई लौटे थे।

ईमानदारी की श्रेष्ठता

अजीब स्वभाव है मानव का! हमारी भले ही ईमान से जान पहचान ना हो, पर हम चाहते हैं कि हमारे संपर्क में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति ईमानदार हों। व्यापार में, व्यवहार में , साहित्य में या संसार में सभी जगह ईमानदारी की मांग है।

कौन हैं बॉलीवुड के 10 सबसे अमीर एक्टर

बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक एक्टर-सुपरस्टार मौजूद हैं। जो अपनी सुपरहिट फिल्मों के जरिए लोगों का एंटरटेनमेंट करते हैं। वो एक फिल्म के जरिए करोड़ों की कमाई एक साल में कर लेते हैं,

ना धर्म देखा ना उम्र देखा, ना अमीर देखा और ना ही गरीब!

कोरोना महामारी से एक बात तो साफ हो गई कि प्रकृति ही सबसे बड़ा धर्म है। इसने किसी भी धर्म को अनदेखा नहीं किया और सब पर बराबर की मार की है। चाहे वह किसी भी धर्म का हो, अमीर हो या गरीब, कोरोना ने किसी को नहीं छोड़ा।

कोरोना संकट के समय में सतर्कता और सावधानी से करें निवेश

आज हर तरफ कोरोना वायरस की चर्चा है। देश में लॉकडाउन 50 दिन से आगे बढ़ चुका है। सभी तरह के कारोबार और आर्थिक गतिविधियों में एक तरह से बंदी है।