Skip to main content

मधुबनी में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन ने उठाए त्वरित कदम

मधुबनी में कोरोना पॉजिटिव पांच लोगों के मिलने के बाद जिस तरह से जिला प्रशासन ने उनके घर को चिन्हित करते हुए 3 किमी के क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया है वह प्रशंसनीय है। इससे कोरोना के फैलने की आशंका पूरी तरह से खत्म की जाएगी। प्रेस एसोसियेशन के कोषाध्यक्ष और मिथिला विकास के लिए कार्यरत संतोष ठाकुर ने कहा कि कोरोना पॉजिटिव मिलने पर बिना समय गंवाए 3 किमी का एरिय कंटेंमेंट क्षेत्र घोषित करना प्रशासनिक दक्षता और सजगता को साबित करता है। इसके लिए जिला अधिकारी डा. नीलेश के कदम प्रशंसनीय है।
संतोष ठाकुर ने कह कि बिहार का मधुबनी जिला कोरोना पर प्रभावी रोक लगाने के लिए देश भर में प्रशंसा हासिल कर रहा है। जिस तरह से नेपाल के साथ खुली सीमा होने के बाद भी डा. नीलेश देओरे ने यहां पर सीमाबंदी की वह उल्लेखनीय है। संतोष ठाकुर ने कहा कि कलुआही, भौआड़ा, मधेपुर, झंझारपुर ऐसे स्थान है जो काफी अंदर की ओर है। ऐसे में लॉकडाउन के एक महीने के बाद वहां पर पॉजिटिव केस मिलना कुछ संदेह भी उत्पन्न करता है। इसकी जांच होनी चाहिए कि क्या वे बाहर से आए हैं। अगर हां तो उन्हें क्या बिना जांच के आने दिया गया। यहां आने के बाद क्या उनकी जांच में किसी तरह की लापरवाही हुई।

संतोष ठाकुर ने कहा कि यह सभी के लिए जरूरी किया जाए कि वे जब भी कहीं बाहर से मधुबनी सीमा के अंदर आए तो जिला अस्पताल या सीमा प्रवेश करते ही पड़ने वाले पहले स्वस्थय केंद्र से अपनी जांच कराने के बाद ही अपने गांव में प्रवेश् करें। संतोष ठाकुर ने कहा कि जिला प्रशासन के कोरोना से युद्ध में जिला का हर पत्रकार साथ है। डा. निलेश के आहवान पर हर पत्रकार उनके साथ कोरोना युद्ध में शामिल होने के लिए तत्पर है।


Comments

Most Popular

अभिनेता ऋषि कपूर को श्रद्धांजलि

फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर का 30 अप्रैल को मुंबई में कैंसर से निधन हो गया। बुधवार को सांस लेने में तकलीफ की वजह से उन्हें मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। ऋषि‌ कपूर पिछले साल सितंबर महीने में न्यूयॉर्क से कैंसर का इलाज कराके मुंबई लौटे थे।

ईमानदारी की श्रेष्ठता

अजीब स्वभाव है मानव का! हमारी भले ही ईमान से जान पहचान ना हो, पर हम चाहते हैं कि हमारे संपर्क में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति ईमानदार हों। व्यापार में, व्यवहार में , साहित्य में या संसार में सभी जगह ईमानदारी की मांग है।

कौन हैं बॉलीवुड के 10 सबसे अमीर एक्टर

बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक एक्टर-सुपरस्टार मौजूद हैं। जो अपनी सुपरहिट फिल्मों के जरिए लोगों का एंटरटेनमेंट करते हैं। वो एक फिल्म के जरिए करोड़ों की कमाई एक साल में कर लेते हैं,

ना धर्म देखा ना उम्र देखा, ना अमीर देखा और ना ही गरीब!

कोरोना महामारी से एक बात तो साफ हो गई कि प्रकृति ही सबसे बड़ा धर्म है। इसने किसी भी धर्म को अनदेखा नहीं किया और सब पर बराबर की मार की है। चाहे वह किसी भी धर्म का हो, अमीर हो या गरीब, कोरोना ने किसी को नहीं छोड़ा।

कोरोना संकट के समय में सतर्कता और सावधानी से करें निवेश

आज हर तरफ कोरोना वायरस की चर्चा है। देश में लॉकडाउन 50 दिन से आगे बढ़ चुका है। सभी तरह के कारोबार और आर्थिक गतिविधियों में एक तरह से बंदी है।