Skip to main content

राशन दुकानों का औचक निरीक्षण हो, हर गरीब को मिले अनाज

नया मिथिला- नया बिहार अभियान के संयोजक और पत्रकार संतोष ठाकुर ने बिहार सरकार से मांग की है कि राशन दुकानों का औचक निरीक्षण हो और यह सुनिश्चित किया जाए कि हर गरीब को अनाज मिले।

उन्होंने कहा कि यह शिकायत आ रही है असली जरूरतमंदो के अनाज को कई जगह उन्हें न देकर काला बाजार में बेचा जा रहा है। इन आरोपों की जांच होनी चाहिए। मिथिलांचल में इसको लेकर अभियान तेज किया जाना चाहिए।

उन्होंने रमजाान शुरू होने की शुभकामना भी दी और कहा कि रमजान पवित्रता का महीना है। इस दौरान हमें सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क प्रयोग को अपनाते रहना चाहिए। उन्होंने सभी से आरोग्य सेतु डाउनलोड करने की अपील भी की।

संतोष ठाकुर ने कहा कि बिहार में करीब 14 लाख और मिथिलांचल में भी लाखों लोगों के पास राशनकार्ड नहीं हैं। उन्हें भी संकट की इस घड़ी में राशन मिलना चाहिए। नियमों की आड़ में उनका हक नहीं छिनना चाहिए। उन्हें भूखे पेट न सोना पड़े, यह देखना चाहिए।

नया मिथिला-नया बिहार अभियान के संयोजक व पत्रकार संतोष ठाकुर ने कहा कि मधुबनी, दरभंगा सघन जिला है। यहां पर बेनीपटटी, मधुबनी सहित कई विधानसभा क्षेत्र हैं जो काफी सघन है। ऐसे में यहां पर कुछ जगहों पर शिकायतें भी हो सकती है।

उन्होंने कहा कि समस्त मिथिलांचल में गरीबों को अनाज सुनिश्चित हो इसके लिए हेल्पलाइन या आनॅलाइन शिकायत का तंत्र बनाया जा सकता है। जहां जरूरतमंद अनाज नहीं मिलने पर शिकयत कर पाएं। औचक दबिश से भी स्थिति में सुधार होगा। मिथिलांचल के सभी डीएम अपने दायित्व का समर्पित भाव से निवर्हन कर रहे हैं। उनके निर्देशन में इस समस्या को दूर किया जा सकता है।

संतोष ठाकुर ने अपील की कि कोरोना के समय में ऐसे गरीब लोग जिनके पास अन्न-खाना की कमी है। उन्हें सामर्थय अनुसार गांव के लोग भोजन-अनाज दें। अन्न दान से बड़ा कोई दान नहीं है। नर सेवा ही नरायण सेवा है। ऐसे में हम मिथिलावासियों  को संकट की घड़ी में दूसरे मिथिलावासी की मदद के लिए तत्पर रहने की जरूरत है।

Comments

Most Popular

अभिनेता ऋषि कपूर को श्रद्धांजलि

फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर का 30 अप्रैल को मुंबई में कैंसर से निधन हो गया। बुधवार को सांस लेने में तकलीफ की वजह से उन्हें मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। ऋषि‌ कपूर पिछले साल सितंबर महीने में न्यूयॉर्क से कैंसर का इलाज कराके मुंबई लौटे थे।

ईमानदारी की श्रेष्ठता

अजीब स्वभाव है मानव का! हमारी भले ही ईमान से जान पहचान ना हो, पर हम चाहते हैं कि हमारे संपर्क में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति ईमानदार हों। व्यापार में, व्यवहार में , साहित्य में या संसार में सभी जगह ईमानदारी की मांग है।

कौन हैं बॉलीवुड के 10 सबसे अमीर एक्टर

बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक एक्टर-सुपरस्टार मौजूद हैं। जो अपनी सुपरहिट फिल्मों के जरिए लोगों का एंटरटेनमेंट करते हैं। वो एक फिल्म के जरिए करोड़ों की कमाई एक साल में कर लेते हैं,

ना धर्म देखा ना उम्र देखा, ना अमीर देखा और ना ही गरीब!

कोरोना महामारी से एक बात तो साफ हो गई कि प्रकृति ही सबसे बड़ा धर्म है। इसने किसी भी धर्म को अनदेखा नहीं किया और सब पर बराबर की मार की है। चाहे वह किसी भी धर्म का हो, अमीर हो या गरीब, कोरोना ने किसी को नहीं छोड़ा।

कोरोना संकट के समय में सतर्कता और सावधानी से करें निवेश

आज हर तरफ कोरोना वायरस की चर्चा है। देश में लॉकडाउन 50 दिन से आगे बढ़ चुका है। सभी तरह के कारोबार और आर्थिक गतिविधियों में एक तरह से बंदी है।